• Tue, 31 Jan, 2023
भारत का एक ऐसा खिलाड़ी जो अकेले अपने दम पर जिताता था मैच, 32 साल की उम्र में ही तबाह हुआ करियर

ताज़ा खबरें

Updated Fri, 18 Mar 2022 17:29 IST

भारत का एक ऐसा खिलाड़ी जो अकेले अपने दम पर जिताता था मैच, 32 साल की उम्र में ही तबाह हुआ करियर

रोहित शर्मा को हाल ही में टीम इंडिया का नया कप्तान बनाया गया है. रोहित ने कई युवा खिलाड़ियों को टीम में वापस बुलाया है. वहीं कई दिग्गज खिलाड़ी टीम से बाहर हो चुके हैं. लेकिन एक खिलाड़ी ऐसा है जो एक समय पर भारतीय टीम का सबसे बड़ा मैच विनर माना जाता था. लेकिन वो अब अपना करियर बचाने में भी नाकाम है. अब ये खिलाड़ी आईपीएल के जरिए टीम में वापसी करने की आखिरी कोशिश करेगा. 

मनीष पांडे ने टीम इंडिया के लिए अब तक 39 टी-20 इंटरनेशनल मुकाबले खेले हैं, जिसमें उन्होंने की 44.31 औसत और 126.15  की स्ट्राइक रेट से 709 रन बनाए. मनीष पांडे कभी कंसिसेटेंट नहीं रहे और यही वजह है कि उनका टीम इंडिया में आना और जाना लगा रहा. अब लगता नहीं कि वो कभी वापसी कर पाएंगे. आईपीएल 2021 में भी मनीष पांडे सनराइजर्स हैदराबाद की टीम के लिए कमजोर कड़ी साबित हुए थे.

मनीष पांडे की फ्लॉप बल्लेबाजी के कारण पूरा मिडिल ऑर्डर तहस-नहस हो जाता है, जिस वजह से टीम को भारी नुकसान उठाना पड़ता है. इस खिलाड़ी को एक वक्त पर टीम इंडिया का भविष्य माना जाता था, लेकिन इनका बल्ला ज्यादातर शांत रहा. मनीष पांडे ने टीम इंडिया के लिए शानदार डेब्यू किया था. उन्होंने साल 2015 में जिंबाब्वे के खिलाफ 86 गेंदों पर 71 रन बनाए थे. इसके बाद अगले ही साल उन्होंने सिडनी में 81 गेंदों पर 104 रन बनाए और टीम की जीत पक्की की. लेकिन इसके बाद वो  टीम इंडिया से लगातार अंदर बाहर होते रहे. इंजरी ने भी उनसे कई बड़े मौके छीने. शानदार शुरुआत को वो बड़े करियर में तब्दील नहीं कर सके.

 

 

Latest news