BREAK NEWS

भाजपा विधायक से मारपीट के मामले में योगी सरकार सख्त, जानिए पूरा मामला

भाजपा विधायक से मारपीट के मामले में योगी सरकार सख्त, जानिए पूरा मामला

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ की इगलास सीट से बीजेपी विधायक राजकुमार सहयोगी ने पिटाई किए जाने का आरोप लगाया है। उन्होंने थाने में बीते बुधवार (12 अगस्त, 2020) को पुलिसकर्मियों द्वारा कथित तौर पर उनकी पिटाई किए जाने का आरोप लगाया है। यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घटना का संज्ञान लेते हुए संबंधित थानाध्यक्ष को तत्काल निलंबित करने और अपर पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) को हटाने के आदेश दिए हैं।

बता दें कि विधायक राजकुमार सहयोगी की थाने में पुलिस द्वारा कथित पिटाई की खबर फैलते ही सैकड़ों की संख्या में भाजपा कार्यकर्ता अलीगढ़ के सांसद सतीश गौतम के नेतृत्व में पुलिस स्टेशन के बाहर इकट्ठा हो गए और विरोध प्रदर्शन किया।

क्या है मामला?

दरअसल, इगलास विधानसभा सीट से भाजपा विधायक सहयोगी सत्ताधारी दल से संबद्ध एक व्यक्ति के खिलाफ दायर मामले के सिलसिले में गोंडा थाने गए थे। सहयोगी का आरोप है कि जब वह उक्त मामले के सिलसिले में थाने आए तो SHO सहित तीन पुलिस अधिकारियों ने उनके साथ मारपीट की। उन्होंने बताया कि दो अगस्त को पार्टी कार्यकर्ता रोहित वार्ष्णेय की संपत्ति विवाद को लेकर सलीम नामक व्यक्ति ने पिटाई कर दी थी। सलीम के खिलाफ मारपीट का मामला भी दर्ज किया गया था। हालांकि, इसी घटना को लेकर कुछ दिन बाद रोहित के खिलाफ भी मामला दर्ज कर लिया गया और जब रोहित इसका विरोध करने गया तो थाने पर तैनात पुलिसकर्मियों ने उनके साथ कथित तौर पर दुर्व्यवहार किया।

सहयोगी ने कहा कि रोहित विश्व हिन्दू परिषद के सक्रिय सदस्य हैं और उनके खिलाफ बेवजह मामला दर्ज किया गया है। स्थिति तनावपूर्ण होने पर गोंडा थाने पर अतिरिक्त पुलिस बल भेजा गया। वरिष्ठ पुलिस अधिकारी स्थिति को संभालने के लिए पहुंच गए। बता दें कि किसी पुलिस अधिकारी ने कोई बयान नहीं जारी किया। मिली जानकारी के अनुसार, स्थानीय पुलिसकर्मियों ने बताया कि विधायक ने पुलिस के साथ बदसलूकी की, जिसके बाद उनका थाना प्रभारी अनुज कुमार सैनी सहित पुलिस अधिकारियों के साथ झगड़ा हो गया।

Updated By:- Chhavi Srivastava

CATEGORIES
TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )