BREAK NEWS

जाने क्यों नहीं लड़ सकती एक गर्भवती महिला कोरोना से?

कोरोना वायरस के केस तेजी से बढ़ रहे हैं, संख्या 900 को पार कर चुकी है. वहीं कोरोना वायरस से गर्भवती महिलाओं को भी काफी खतरा है. खतरा इसलिए भी है क्योंकि इनका इम्यूनिटी सिस्टम अन्य लोगों के मुकाबले ज्यादा कमजोर होता है. गर्भवती महिलाओं की इम्यूनिटी सिस्टम के बारे में स्त्री एवं प्रसूति रोग विशेषज्ञ डॉ शिवानी मिश्रा ने सवालों के जवाब दिए हैं.

सवाल- गर्भवती महिला के लिए कितना खतरनाक है कोरोना वायरस?
जवाब- नॉर्मल से ज्यादा. यानी ये वायरस एक आम व्यक्ति को जितना नुकसान पहुंचाएगा, उससे कहीं ज्यादा नुकसान एक गर्भवती महिला को पहुंचाएगा. ऐसे में गर्भवती महिलाओं को अधिक सतर्क रहने की जरूरत है. क्योंकि आम इंसान की तुलना में कोई गर्भवती महिला इंफेक्शन की शिकार जल्दी हो जाती है. ऐसे में उन्हें ज्यादा सावधानी बरतने की जरूरत है

सवाल- कोरोना वायरस से लड़ने में कितना सक्षम है गर्भवती महिला का शरीर?
जवाब- गर्भावस्था हर महिला के लिए बेहद महत्वपूर्ण और नाजुक समय होता है, गर्भवती महिलाओं की छोटी-छोटी आदतें भी शिशु पर गहरा प्रभाव डालती हैं. इस दौरान उनका इम्यूनिटी सिस्टम भी कमजोर होता है. गर्भावस्था के दौरान उनकी बीमारियों से लड़ने की क्षमता कम हो जाती है..

सवाल- किन गर्भवती महिलाओं को हो सकता है वायरस से ज्यादा नुकसान?
जवाब- कुछ ऐसी महिलाएं हैं जो गर्भवती हैं. लेकिन इसी के साथ उन्हें डायबिटीज और एनीमिया है, उन्हें ये वायरस जल्दी नुकसान पहुंचा सकता है. आपको बता दें, गर्भवती महिलाओं में एनीमिया का प्रभाव अधिक होता है. यदि ये होता है, तो उनका शरीर कमजोर पड़ जाता है और वह किसी भी प्रकार की बीमारी से लड़ने के लिए पूरी तरह से सक्षम नहीं हो पाती हैं. ऐसे में अगर ये वायरस ऐसी गर्भवती महिला को होता है तो इससे उनकी जान को खतरा भी हो सकता है

सवाल- खून की कमी कैसे करें दूर?

जवाब- यदि गर्भवती महिला में खून की कमी हो जाती है तो उसे उसी पल से अपनी आदतों में सुधार करते हुए कुछ चीजों को अपनी डाइट का हिस्सा बना लेना चाहिए. महिलाओं को इस स्थिति में अपना ज्यादा से ज्यादा ध्यान रखना है.

ये चीजें को खाकर खून की कमी पूरी कर सकती हैं गर्भवती महिलाएं
चुकंदर एक ऐसी चीज है जो खून बढ़ाने का रामबाण उपाय है. आप चाहें तो इसे सब्जी या सलाद के रूप में नियमित तौर पर ले सकती हैं. इसके अलावा चुकंदर का जूस पीना भी बहुत फायदेमंद होता है. पालक में भी पर्यापत मात्रा में आयरन होता है. कच्चे केले का सेवन भी आयरन की कमी को दूर करने में फायदेमंद होता है. गर्भवती महिला चाहे तो नियमित रूप से अपने आहार में खजूर को शामिल कर सकती हैं. खजूर के सेवन से आयरन की कमी दूर हो जाती है. साथ ही सूखे मेवों के सेवन से शरीर को ताकत भी मिलती है.

सवाल- खून की कमी कैसे करें दूर?

जवाब- यदि गर्भवती महिला में खून की कमी हो जाती है तो उसे उसी पल से अपनी आदतों में सुधार करते हुए कुछ चीजों को अपनी डाइट का हिस्सा बना लेना चाहिए. महिलाओं को इस स्थिति में अपना ज्यादा से ज्यादा ध्यान रखना है.

ये चीजें को खाकर खून की कमी पूरी कर सकती हैं गर्भवती महिलाएं

चुकंदर एक ऐसी चीज है जो खून बढ़ाने का रामबाण उपाय है. आप चाहें तो इसे सब्जी या सलाद के रूप में नियमित तौर पर ले सकती हैं. इसके अलावा चुकंदर का जूस पीना भी बहुत फायदेमंद होता है. पालक में भी पर्यापत मात्रा में आयरन होता है. कच्चे केले का सेवन भी आयरन की कमी को दूर करने में फायदेमंद होता है. गर्भवती महिला चाहे तो नियमित रूप से अपने आहार में खजूर को शामिल कर सकती हैं. खजूर के सेवन से आयरन की कमी दूर हो जाती है. साथ ही सूखे मेवों के सेवन से शरीर को ताकत भी मिलती है.

इसके अलावा कई ऐसे फल भी होते हैं जो खून की कमी को पूरा करने में सहायक होते हैं. किशमिश और अनार खासतौर पर गर्भवती को दिया जाना चाहिए. हालांकि गर्भावस्था के दौरान कई तरह के हॉर्मोनल बदलाव होते हैं. ऐसे में इस बात का खास ध्यान रखना चाहिए कि गर्भवती महिला जो कुछ भी खाए वो चिकित्सक की सलाह के बाद ही ले.

TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (1 )