BREAK NEWS

वाराणसी-गायब हो गईं पेयजल योजना में धांधली की फाइलें

वाराणसी-गायब हो गईं पेयजल योजना में धांधली की फाइलें

शहर में जेएनएनयूआरएम के तहत क्रियान्वित पेयजल योजना में हुई धांधली की फाइलें गायब हो गई हैं। यह जानकारी दो दिन पूर्व हुई तो खोजबीन के बाद सहायक अभियंता कुलदीप प्रजापति ने सोमवार को सारनाथ थाने में तहरीर दी। इस मामले में शासन स्तर से हो रही जांच में अब तक अधीक्षण अभियंता आरपी पांडेय समेत 19 अफसरों को निलंबित किया जा चुका है जबकि 17 सेवानिवृत्त अफसरों से वसूली का आदेश जारी है। पुलिस मामले की जांच में जुट गई है।

उक्त फाइलें तत्कालीन अधिशासी अभियंता अंकुर श्रीवास्तव ने सारनाथ के बरईपुर स्थित जल निगम कार्यालय में रखवाई थी। जिस आलमारी में उन्हें रखा गया था उसकी निगरानी की जिम्मेदारी कैशियर हर्ष जायसवाल की है। अधिशासी अभियंता अंकुर श्रीवास्तव का वर्तमान में बलिया स्थानान्तरण हो गया है लेकिन उन्होंने अब तक किसी को फाइनेंशियल चार्ज नहीं दिया है जबकि अन्य प्रभार गंगा प्रदूषण नियंत्रण इकाई के परियोजना प्रबंधक एसके बर्मन को दिया गया है। इन फाइलों में उन ठीकेदारों व फर्म के नाम सहित एफडी भी थी जिन्होंने पेयजल योजना में काम किया था। इसके अलावा उन्हें किए गए भुगतान से संबंधित दस्तावेज व उपकरणों की खरीद के कागजात भी शामिल थे। फाइलों के गायब होने के पीछे साजिश की आशंका जाहिर की जा रही है क्योंकि उसमें करोड़ों रुपये की धांधली के कई राज छिपे हैं।

REPORT BY : ROHIT MISHRA
UPDATE BY : ANKITA

TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )