BREAK NEWS

यूपी एस० टी० एफ० की बड़ी सफलता -आगरा से अवैध तरीके से तस्करी कर पश्चिम बंगाल भेजी जा रही रू० 70 लाख की फेन्साडिल लदा ट्रक बरामद, गिरोह के दो सदस्य गिरफ्तार

यूपी एस० टी० एफ० की बड़ी सफलता -आगरा से अवैध तरीके से तस्करी कर पश्चिम बंगाल भेजी जा रही रू० 70 लाख की फेन्साडिल लदा ट्रक बरामद, गिरोह के दो सदस्य गिरफ्तार

उत्तर प्रदेश/ब्यूरो रिपोर्ट: दिनाॅंक 15.08.2020 को एस0टी0एफ0, उ0प्र0 को आगरा से अवैध तरीके से तस्करी कर प0 बंगाल भेजी जा रही रूपए 70 लाख की फेन्साडिल (39900 शीशी) लदा ट्रक बरामद करते हुए तस्कर गिरोह के दो सदस्यों को गिरफ्तार करने में उल्लेखनीय सफलता प्राप्त हुई।

गिरफ्तार अभियुक्तों का विवरणः-
1- अरूण पाल पुत्र धनुषधारी पाल निवासी गुलनी, थाना पकरी बरांवा, जनपद नेवादा (बिहार)
2- लवकुश पटेल पुत्र रमायन पटेल, निवासी धमनपुरा, थाना फेफना, जनपद बलिया (उ0प्र0)

बरामदगीः-

1. 39900 शीशी फेन्साडिल (बाजार मूल्य लगभग 70 लाख रूपये)।
2. 01 अदद ट्रक नम्बर-डब्लू0बी0-25-सी-5835
3. 02 अदद मोबाइल फोन।
4. रूपये 6000/-नगद।

स्पेशल टास्क फोर्स, उ0प्र0 को विगत कुछ समय से सूचना प्राप्त हो रही थी कि अन्तरप्रान्तीय गिरोहों द्वारा उत्तर प्रदेश के विभिन्न जनपदों से मादक पदार्थों एवं दवाओं का अवैध तरीके से तस्करी कर पक्षिम बंगाल भेजा जा रहा है, जहाॅं इन दवाओं का उपयोग नशा करने के लिये किया जा रहा है। इस सम्बन्ध में पुलिस महानिरीक्षक एस0टी0एफ0 उ0प्र0 एवं वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक एस0टी0एफ0 उ0प्र0 द्वारा आवश्यक कार्यवाही हेतु निर्देश दिये गये थे। उक्त निर्देश के क्रम में एस0टी0एफ0 फील्ड इकाई वाराणसी द्वारा अभिसूचना संकलन की कार्यवाही की जा रही थी।
आज दिनांकः 15.08.2020 को एस0टी0एफ0 फील्ड इकाई वाराणसी के निरीक्षक श्री अरविन्द सिंह के नेतृत्व में उ0नि0 श्री राघवेन्द्र मिश्र, आरक्षी पुलिस अभय विक्रम सिंह की एक टीम गठित कर जनपद आजमगढ़ में उक्त के संबंध में अभिसूचना संकलन की कार्यवाही प्रारम्भ की गयी। अभिसूचना संकलन के दौरान विश्वस्त सूत्रों से ज्ञात हुआ कि फेन्साडिल सिरप से लदा एक ट्रक तस्करी कर जनपद आजमगढ़ के थाना फूलपुर क्षेत्र से होकर पश्चिम बंगाल जाने वाला है, यदि शीघ्रता की जाये तो पकड़ा जा सकता है। इस सूचना पर विश्वास कर एसटीएफ टीम द्वारा तत्काल ड्रग्स निरीक्षक स्वास्थ्य विभाग जनपद आजमगढ़ एवं स्थानीय पुलिस से सम्पर्क किया गया और इन्हें साथ लेकर थाना फूलपुर जनपद आजमगढ़ पहुॅचकर मुखबिर द्वारा बताये गये वाहन का इन्तजार करने लगे। थोड़ी देर में मुखबिर द्वारा बताये गये नम्बर की ट्रक नम्बर डब्लू0बी0-25-सी-5835 आती हुई दिखायी दी। उक्त वाहन को रोककर चेंकिग की गयी तो पाया गया कि मुर्गी के दानों (फीड) के बीचे में उक्त फेन्साडिल सिरप को छिपाकर/तस्करी के लिए ले जाया जा रहा था, जिससे संबंधित इनके पास कोई कागजात उपलब्ध नही था। मौके से उपरोक्त अभियुक्तों को गिरफ्तार कर लिया गया जिनसे उपरोक्त बरामदगी हुई।
गिरफ्तार अभियुक्तों से विस्तृत पूछताछ किये जाने पर उनके द्वारा बताया गया कि उक्त ट्रक जय प्रकाश पाण्डेय निवासी विवेकानन्द नगर काॅलोनी थाना माक्यू सकरैल, हावडा (प० बंगाल) मूल निवासी जनपद बलिया का है। जय प्रकाश पाण्डेय ने ही उक्त सिरप को छिपाकर लाने के लिये उन्होंने भेजा था। यह दवा हम लोगों को जनपद आगरा के सिकन्दरा इण्डस्ट्रीयल एरिया से मिली थी, जिसे लेकर हम लोगों को सिलीगुडी (प0बंगाल) जाना था। सिलीगुडी पहुचाने के बाद जय प्रकाश पाण्डेय बताता कि इसे किसको और कहाॅं देना है। रास्ते में पुलिस को शक न होने इसके लिए हम लोग मुर्गी का दाना लाद इसके बीच में सिरप की पेटियां छिपा दिये थे। उक्त सिरप का प्रयोग नशा करने वाले व्यक्तियों द्वारा नशा के लिये किया जाता है। जिन स्थानों पर शराब प्रतिबन्धित है, वहाॅं पर इस सिरप की तस्करी कर इसे ऊॅंचे दामों पर अवैध तरीके से बेचा जाता है। यहाॅं यह उल्लेखनीय है कि मौके पर मौजूद ड्रग्स निरीक्षक द्वारा बताया गया कि उक्त फेन्साडिल सिरप कफ सिरप (खासी की दवा) के रूप में उपयोग किया जाता है। फेन्साडिल में कोडिन नामक केमिकल पाया जाता है, जिसे एक साथ अधिक मात्रा में लेने पर नशा होता है। उक्त केमिकल एक साथ अधिक मात्रा में लेने पर इसका स्वास्थ्य पर बहुत बुरा प्रभाव भी पड़ता है।

गिरफ्तार अभियुक्तों को थाना फूलपुर, जनपद आजमगढ़ पर मु0अ0सं0 203/2020 धारा-8/21 एनडीपीएस एक्ट का अभियोग पंजीकृत कराया गया, अग्रिम विधिक कार्यवाही स्थानीय पुलिस द्वारा की जा रही है।

उत्तर प्रदेश ब्यूरो रिपोर्ट अभिषेक दुबे शिवम

CATEGORIES
TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )