BREAK NEWS

निर्भया केस:24 मार्च को होगी तलाक की सुनवाई क्या फिर टलेगी फांसी?

निर्भया केस:24 मार्च को होगी तलाक की सुनवाई क्या फिर टलेगी फांसी?

निर्भया कांड में दोषी अक्षय ठाकुर की पत्नी की तलाक की अर्जी पर 24 मार्च को औरंगाबाद कोर्ट में सुनवाई होगी. अक्षय ठाकुर की पत्नी पुनीता के वकील मुकेश कुमार सिंह ने बताया कि परिवार न्यायालय के प्रधान न्यायधीश रामलाल शर्मा की अदालत ने अक्षय की पत्नी को सशरीर उपस्थित होने को कहा है. उसके बाद ही सुनवाई शुरू होगी.

अब सवाल यह उठता है कि अगर 24 मार्च को कोर्ट में सुनवाई होगी तो फिर 20 मार्च को अक्षय को फांसी दी जा सकेगी? और अक्षय को अगर फांसी नहीं हुई तो फिर बाकी के दोषियों को भी फिलहाल फांसी कैसे दी जाएगी?

इससे पहले 16 मार्च को निर्भया कांड के आरोपी अक्षय की पत्नी ने औरंगाबाद की अदालत में तलाक की अर्जी दाखिल की थी. दायर अर्जी में अक्षय की पत्नी ने कहा है कि वो विधवा बनकर नहीं जी सकती, इसलिए उसे तलाक दिया जाए. पुनिता ने हिन्दू विवाह अधिनियम 13.2.2 के अंतर्गत तलाक मामला दायर किया है.

अक्षय ठाकुर की पत्नी पुनीता ने अर्जी में कहा है कि पति को निर्भया के दुष्कर्म मामले में दोषी ठहराया गया है और कोर्ट से मिली सजा के तौर पर उसे फांसी दी जानी हैं. हालांकि मेरे पति निर्दोष हैं ऐसे में मैं उनकी विधवा बनकर नहीं रहना चाहती हूं. इसलिए उसे अपने पति से तलाक चाहिए.

औरंगाबाद के लहंग कर्मा गांव के रहने वाला अक्षय ठाकुर निर्भया के साथ गैंगरेप करने के मामले में दोषी है और 20 मार्च को अन्य तीन दोषियों के साथ उसे दिल्ली के तिहाड़ जेल में फांसी दी जाने वाली हैं. लेकिन अक्षय की पत्नी ने औरगंबाद न्यायालय में तलाक की अर्जी दाखिल कर दी थी जिस पर आज यानी कि 19 मार्च को सुनवाई तय की गई.

TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )