BREAK NEWS

एम्स की चेतावनी जून-जुलाई में चरम पर पहुंच सकती है बीमारी

एम्स की चेतावनी जून-जुलाई में चरम पर पहुंच सकती है बीमारी

कोरोना को लेकर एम्‍स के डायरेक्‍टर ने एक सनसनीखेज बयान दिया है। उन्‍होंने कहा है कि जून-जुलाई में कोरोना अपने चरम पर होगा। एम्‍स के डायरेक्‍टर रणदीप गुलेरिया ने कहा कि जांच नमूने की डाटा का अध्‍ययन करने के बाद यह कहा जा सकता है कि जिस तरह से भारत देश में कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं उससे यह अनुमान लगाया जा सकता है कि यह बीमारी जून-जुलाई में अपने चरम पर होगी।रणदीप गुलेरिया ने यह जानकारी न्‍यूज एजेंसी एएनआइ को दी है।

अगले एक से दो महीने में अपने चरम पर होगी बीमारी-
एएनआइ से बातचीत करते हुए उन्‍होंने बताया कि कोरोना के डाटा का अध्‍ययन हम कई तरीकों से कर रहे हैं। डाटा के अध्‍ययन से यह बात तो साफ है कि अब यह लग रहा है कि जिस हिसाब से यह बीमारी बढ़ रही है उससे यह कहा जा सकता है कि बीमारी अगले एक दो महीने (जून-जुलाई) में अपने चरम पर होगी। हालांकि, उन्‍होंने यह भी कहा कि इसके लिए कई फैक्‍टर भी काम करेंगे।

दिल्‍ली का ये है हाल-
दिल्‍ली में कोरोना वायरस की बात करें तो यहां एक दिन में अभी तक सबसे ज्‍यादा केस मिलने का रिकॉर्ड बुधवार को बना। बुधवार को नए मरीजों की संख्‍या 428 रही। एक मौत भी हुई जिसके कारण मरने वालों की संख्‍या अब 65 पहुंच गई है। इसी के साथ ही दिल्ली में कोरोना संक्रमितों की संख्या 5532 पहुंच गई है।

देश का है यह हाल-
देश की बात करें तो केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की वेबसाइट के अनुसार देश भर में कोरोना वायरस बीमारी से संक्रमितों की संख्या 52952 पहुंच गई है। इससे ठीक होने वालों की संख्‍या 15266 है जिन्‍हें इलाज के बाद अस्पताल से डिस्चार्ज किया गया है। वहीं, कोरोना संक्रमित के एक्टिव मामलों की संख्या 35902 है जबकि 1783 लोगों की कोरोना के चलते जान जा चुकी है। देश भर में कोरोना के कारण लॉकडाउन चल रहा है। यह तीसरा लॉकडाउन 17 मई तक रहेगा।

कोरोना योद्धाओं के सम्‍मान में अनोखी पहल-
इधर, कोरोना से इस समय जंग लड़ रहे योद्धाओं का उत्साहवर्द्धन करने के लिए बंधु इंडिया एनजीओ ने अनोखी पहल की है। एनजीओ की तरफ से बाराखंभा पुलिस स्टेशन के बाहर की दीवारों का प्रयोग करके वहां कोरोना योद्धाओं के कार्यों को चित्रों के माध्यम से उकेरा है।

दीवार पर प्रदर्शित किया काम-
दीवार का उद्घाटन बुधवार की शाम हुआ। इसके बाद से यह काफी चर्चा में है। इसमें कोरोना योद्धाओं के प्रतीकात्मक चित्र बनाने के साथ उनके द्वारा किए जा रहे कार्यों को भी दर्शाया गया है। कोरोना से बचाव के लिए कुछ संदेशों को भी दीवार पर अंकित किया गया है। इसके जरिये लोगों को जागरूक किया जा रहा है। किस तरह से लोगों की मदद की जा रही है। किस तरह से देश को कोरोना से बचाने का प्रयास किया जा रहा है, इसे दीवार पर प्रदर्शित किया गया है।

TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )