BREAK NEWS

फोन से फटाफट डिलीट करें ये 8ऐप्स नही तो हो सकता है भारी नुकसान।

फोन से फटाफट डिलीट करें ये 8ऐप्स नही तो हो सकता है भारी नुकसान।

अगर आप एंड्रॉयड स्मार्टफोन का इस्तेमाल करते हैं तो जरा सतर्क हो जाइए. हाल ही में एक नया मैलवेयर डिटेक्ट हुआ है जो यूजर्स के फोन को नुकसान पहुंचा रहा है. ऐसे कुल आठ एंड्रॉयड ऐप्स का पता चला है जिनमें ये वायरस मौजूद था और दक्षिण पूर्व एशिया और अरब प्रायद्वीप में कस्टमर्स को अपना टारगेट बना रहा था. जैसा कि McAfee Cell Analysis द्वारा बताया गया है, इन ऐप्स के 7,00,000 से अधिक डाउनलोड हुए हैं.

ये मैलवेयर फोटो एडिटर, वॉलपेपर, रिडल्स, कीबोर्ड स्किन और कई कैमरा-रिलेटेड ऐप के जरिए यूजर्स के फोन में जगह बना रहा था. इन धोखाधड़ी वाले ऐप में एम्बेड किए गए मैलवेयर SMS नोटिफिकेशन को हाईजैक करते हैं और इसके बाद अनअथोराइज्ड खरीदारी करते हैं.

रिपोर्ट के अनुसार, ऐप्स ने ओवरव्यू के लिए पहले एक नॉर्मल मॉडल दिखाते हुए Google Play Retailer के लिए खुद को साबित किया और फिर बाद में अपडेट के जरिए खतरनाक कोड लॉन्च किया. यानी पहले ऐप का नॉर्मल वर्किंग वर्जन लॉन्च हुआ और बाद में इसे अपडेट किया गया.

McAfee सेल सेफ्टी ने किया अलर्ट

McAfee सेल सेफ्टी ने Android / Etinu के रूप में इस खतरे का पता लगाया है और ग्राहकों को इसे लेकर अलर्ट किया है. इन ऐप्स में मैलवेयर करंट डायनेमिक कोड लोडिंग के जरिए अटैक करता है. मैलवेयर के एनक्रिप्टेड पेलोड्स ऐप से मिलते जुलते फोल्डर भी फोन में ऐड हो जाते हैं ये “cache.bin,” “settings.bin,” “knowledge.droid,” या “.png” जैसे नामों का उपयोग करते हैं.

वायरस को पहचानना मुश्किल

कुल मिलाकर ये वायरस कुछ ऐसे फॉर्म में आपके फोन छिप जाता है कि इसे पहचानना काफी मुश्किल हो जाता है. इसके बाद ये मैलवेयर खुद ही किसी url को ओपन करता है और अनअथोराइज्ड शॉपिंग करता है. इतना ही नहीं ये मैलवेयर आपके नोटिफिकेशन की निगरानी भी करता है और फोन के SMS को भी चुरा लेता है. अगर आप भी इस मुसीबत से जूझ रहे हैं तो आपको ये ऐप्स अनइंस्टाल करने होंगे.

इन 8 ऐप्स को तुरंत कर दें अनइंस्टाल

com.studio.keypaper2021
com.pip.editor.digicam
org.my.favorites.up.keypaper
com.tremendous.coloration.hairdryer
com.ce1ab3.app.photograph.editor
com.hit.digicam.pip
com.daynight.keyboard.wallpaper
Com.tremendous.star.ringtones

McAfee सेल रिसर्च टीम फिलहाल इन खतरनाक ऐप्स पर नजर बनाए हुए है और जल्द ही इन वायरस का निपटारा किए जाने की संभावना है.

TAGS
Share This

COMMENTS

Wordpress (0)
Disqus (0 )